प्लुटो ग्रह से जुरी 39 जानकारीया

Pluto! प्लुटो ग्रह से जुड़े रोचक तथ्य और जानकारी

Pluto जिसे 2006 से पहले सौरमंडल के सभी 9 ग्रहो मे सबसे छोटा ग्रह होने का दर्जा प्राप्त था। लेकिन 2006 के बाद इस सुचि से निकाल दिया गया था। इस्के कुछ समय बाद ही इस ग्रह को बोने ग्रह (Pluto facts in hindi) सामिल किया गय। सूर्य से 5,913,520,000 किलोमीटर जितना दुरी है. इस ग्रह को हिंदि मे यम ग्रह कह्ते है। पर अचानक ये ग्रह सौरमंडल से गायब हो गया। ऐसे हि हमने प्लुटो ग्रह से जुड़े रोचक तथ्य और जानकारी लाये हैैै।।

Pluto of facts details in hindi:

  1. फ्लुटो की खोज 18 February 1930 मै खगोल विज्ञानीक Clyde W. Tombaugh ने खोज किया था। उस समय वो एरिजोना के फ्लैगस्टाफ मे लोवेल वेधशाला मे काम करते थे.
  2. Clyde W. Tombaugh ने फ्लूटो को गलती से खोज किया थ, वो तो कोइ दुसरा ही प्लेनेट कि खोज कर रहे थे जो प्लेनेट एक्स के नाम से एक अज्ञात ग्रह की तलाश मे था जो यूरोनस और नेपच्यून की कक्षा मे गड़्बड़ी कर रहा था.
  3. प्लुटो का नाम ऑक्सफ़ॉड स्कुल ऑफ़ लंडन मे पढ़ने वाली 11वी के छात्र वेनेशिया बर्ने ने रखा थ. इस लड़्की ने कहा थ। कि रोम मे अंधेरे के देवता को प्लुटो कहते है, ओर इस ग्रह पर भी अंधेरा ही रहता है, इसलिये इसका नाम प्लुटो रखा गय।
  4.  गुरुत्वाकर्षण  इस ग्रह पर earth के गुरुत्वाकर्षन से बेहद कम होता है उदाहरण के तौर पर यदि earth किसी वस्तु का वजन 100 पाउंड होता है तो प्लुटो पर 7 पाउंड होता है.
  5. ये ग्रह जिसकी दुरी प्लुटो और सुर्य के बीच की दूरी  लगभग 40 गुना है. अगर earth और सुर्य के बीच की दूरी 1 किलोमीटर मान ले तो earth और सुर्य के बीच 40 किलोमीटर होता है।
  6. विज्ञानिको कि खोज मे इस ग्रह की सतह पर बड़े-बड़े गढ्ढे पाए गए है. उदाहरण के तोर पर प्लुटो पर 260 किमी व्यास के बड़े गढ्ढे देखे गये है
  7. क्य आपको पता है? धरती की सतह पर दबाव प्लुटो की तुलना मे 100,000 गुना अधिक है.
  8. pluto को ये नाम 1930 मे रखा गया थ, ओर इसके नाम को बताने के लिये उस लड़की को 5 पाउंड दिया गया थ।
  9. प्लुटो पर से मिली जांकारियो से ये पता चला कि इस ग्रह पर जिवन का अस्तित्व नही है।
  10. Dwarf planet Pluto के बारे मे अजीबो और अज्ञात तथ्यो को जनने के लिये spectroscopy का उपयोग किया जाता है।
  11. सुर्य ओर प्लुटो के बीच अधिक दुरी होने के कारन सुर्य कि रोश्नी को प्लुटो पर जाने मे लगभग 5 घंते लगते है। और वोहि सुर्य की रोशनी को धरती पर आने मे 8 मिनट 20 सेकन्ड लग्ते है।
  12.  धरती के चन्द्रमा से भी छोटा है प्लुटो का आकार।
  13.  इसका द्र्व्यमान धरती का द्र्व्यमान 1/6 होता है प्लुटो ग्रह का व्यास धरती का व्यास 2/3 है।
  14.  सबसे बड़ा चंद्र्मा charon है प्लुटो का, जिसे इस ग्रह को पुरा एक चक्कर लगाने मे 6.4 दिन का समय लगता है।
  15. इस ग्रह पर कुल 5 moon है, जो की: CHARON, NIX, HYDEA, KERBEROS, OR STYX है।
  16. प्लुटो को सुर्य के चारो ओर चक्कर लगाने मे धरती के तुलना मे 24 साल लगते है।
  17. ये को अंडाकार क्क्षा मे लगाता है, इसलिये जब ये सुर्य के नजदिक आता है तो इस पर बर्फ पिघल जाता है ओर गेसिय रुप से इसके वातावरण बनती है।
  18. DWARF PLANET PLUTO का एक दिन धरती के मुकाबले 6.4 दिन होता है।
  19. प्लुटो को अपनी अण्डाकार कक्षा मे सुर्य के चारो ओर एक परिक्रमा पूरी करने मे 248 साल लगता है।
  20. NASA ने 2006 मे प्लुटो को ओर ज्यदा अध्ययन करने के लिये HORIZONS नामक अंतरिक्ष यान लॉन्च किया था, ओर ये पह्ला यान है जो प्लुटो के लिये उड़ान भड़ा थ।
  21. नासा के तरफ से भेजा गया ये यान को पियओ आकार का थ, ओर ये अंतरिक्ष यान ग्रह को करिब से जानने के लिये बनाया गया थ।
  22. प्लुटो पर मोजूद तत्वो से वेज्ञानिको ने ये अनुमान लगाया कि ग्रह के चट्टानी कोर ओर बर्फ की मोटी बाहरी परत के बीच तरल पानी का अस्तित्व है।
  23. प्लुटो के 5 उप्ग्रहो को charon 1978 , nix or hydea 2005 मे खोजा गया था,   keroberos p4 को 2011, ओर styx p5 को 2012 मे खोजा गया था।
  24. वीज्ञानिक कि खोज के अनुसार dwarf planet Pluto पर एक तिहाई बर्फ के रुप मे जल व दो तिहाई चट्टान है।
  25. इस ग्रह का होने का अंदाजा 1915 मे एक वेज्ञानिक ने जो Percival Lowell  ने किया था।
  26. सुर्य की तीव्रता earth पर पुर्ण दिन की तुलना मे प्लुटो पर 1/900 गुना धुंधली है, मतलब प्लुटो पर गरमी बेहद कम है।
  27. प्लुटो ग्रह नेप्च्युन कि कक्षा से परे एक डिस्क के आकार के क्षेत्र मे स्थित है, इस क्षेत्र को क्विपर बेल्ट कह्ते है।
  28. इस ग्रह का व्यास 2302 किमी(1430.4 मील) earth के चांद्र्मा से केवल दो-तिहाई है। व इसका द्र्व्यमान 1.31*1022 किलोग्राम है, जो चंद्र्मा का एक- छ्ठा हिस्सा है।
  29. प्लुटो अपनी कक्षा चक्र लगाते समय जब वो सुर्य के पास जाता है, तब इस ग्रह के बर्फिली परत पिघल जाता है। ओर नाइट्रोजन, मीथेन,ओर कार्बन मोनोऑक्साइड से युक्त गेसीय वातावरण की एक पतली परत बनाती है. ओर जेसे ही सुर्य से ये ग्रह दुर जाता है तब ये परत वापस निचे आ जाता है, ओर निचे जम जाता है।
  30. प्लुटो ग्रह का घनत्व 2.050 ग्राम प्रति घन सेंटीमीटर व भूतल गुरुत्वाकर्षण 0.66 मीटर प्रति वर्ग सेकेंड है।
  31. pluto ग्रह का घूर्णन प्रतिगामी है, जिसका अर्थ है कि यह ग्रह युरेनस और शुक्र की तरह पूर्व से पच्क्षिम की घूमता है और इसमे 122.5’ का अक्षीय झुकाव है।
  32. 1978 मे प्लुटो की खोज के लगभग 50 साल बाद, इस ग्रह कि परिक्रमा करने वाले पहली चंद्र्मा की खोज हुई थी।
  33. प्लुटोनियम तत्व का नाम इसि ग्रह के नाम से रखा गया थ।
  34. The hubble space telescope प्लुटो के बारे मे महत्व्पूर्ण जानकारी देते रहा है।
  35. प्लुटो को लघु ग्रह सुची मे 134340 number दिया गया है।
  36. Pluto पर earth की तुलना मे 10,000 गुना कम सतह का दबाव है।
  37. अंतरिक्ष यान के मदद से फ्लुटो मे एक दिल के आकार का क्षेत्र भी खोजे गये | जिसे sputnik planum कहा जाता है |  यह क्षेत्र नाइट्रोजन, कार्बन मोनोऑक्साइड और मीथेन आय्नो से बना हुआ है ।
  38. प्लुटो का वायुमंडल मुख्य रुप से नाईट्रोजन से बना है, जो सतह से 1600 किमी उपर फैला हुआ है।मिथेन वायुमंडल का एक ओर घटक है और यह सुर्य के प्राकाश के कारण एथिलीन और एसिटिलीन को मीथेन गैस कणो को तोड़ने के कारण बनता है।
  39. इस ग्रह का तापमान माइनस 233 से माइनस 223 डिग्री सेल्सियस तक रहता है।

नोट: अगर आपको ये पोस्त अच्छा लगा तो comments कर के बताये।

ने के लिये इओर दोस्तो ऐसे डायनासॉर के fact को पढ़स पर clik c करे।

1 thought on “प्लुटो ग्रह से जुरी 39 जानकारीया”

Leave a Comment

Translate »
Share via
Copy link
Powered by Social Snap